ब्लॉक स्तरीय कृषक जागरूकता गोष्ठी का आयोजन- सांसद विधायक रहें मौजूद

*कछौना, हरदोई।* कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम योजना प्रमोशन आफ एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन फार इनसीटू मैनेजमेन्ट आफ काप रेज्ड्यू योजनान्तर्गत एवं सब मिशन ऑन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन (आत्मा) योजनान्तर्गत विकास खण्ड स्तरीय कृषक जागरूकता गोष्ठी/प्रदर्शनी का आयोजन रविवार को में ब्लॉक परिसर कछौना में किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि सांसद अशोक रावत, विशिष्ट अतिथि रामगोपाल वर्मा, विधायक रामपाल वर्मा द्वारा गोष्ठी का शुभारम्भ किया गया। मुख्य अतिथि अशोक रावत ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री द्वारा किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए अनेकों योजनायें चलायी जा रही है। उन्होने बताया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत किसानों के खाते प्रतिवर्ष छः हजार रूपये सीधे खाते में भेजने का काम किया है। उन्होने यह भी बताया कि कृषक भाई पीएम किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत पंजीकरण में भूलेख अंकन एवं बैंक खाते में आधार सीडिंग का कार्य अवश्य करवा लें। विशिष्ट अतिथि रामगोपाल वर्मा ने किसानो को अवगत कराया कि राज्य सरकार सभी प्रकार के बीजों पर 50 से 90 प्रतिशत तक अनुदान दे रही है एवं कृषि यंत्रों पर 50 से 80 प्रतिशत तक एवं सोलर पम्प 60 प्रतिशत अनुदान पर दे रही है, साथ ही अवगत कराया कि प्रधानमंत्री के द्वारा श्री अन्न फसलों की महत्ता को समझते हुए देश और प्रदेश में श्री अन्न फसलों की खेती को बढ़ावा देकर किसानों की आय एवं लोगो का स्वास्थ्य सुरक्षित करने के लिए कदम उठाया गया है। तिलहनी फसलों के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिये निःशुल्क तोरिया बीज मिनीकिट वितरित की जा रही हैं। कार्यक्रम में मुख्य एवं विशिष्ट अतिथियों द्वारा कृषकों को निःशुल्क तोरिया बीज मिनीकिट, सोलर पम्प प्रमाणपत्र वितरित किये गये। डा० अंजली साहू, वरिष्ठ वैज्ञानिक के०वी०के० हरदोई ने बताया कि किसान भाई अपनी खेती में विविधिकरण जैसे खेती के साथ पशुपालन, सब्जी, फल, मत्स्य पालन कर अपनी आय बढ़ा सकते है। डा० नन्द किशोर, उप कृषि निदेशक, हरदोई ने किसानों से अपील की फसल अवशेष /पराली कदापि न जलाये। फसल अवशेष/पराली जलाने से पर्यावरण प्रदूषित होता है तथा पराली जलाना दण्डनीय अपराध है। पराली निस्तारण हेतु कृषि विभाग द्वारा निःशुल्क वेस्ट डिकम्पोजर वितरित किये जा रहे हैं अपने खेत के फसल अवशेष/पराली को नजदीकी गौशालओं में दान देकर वहाँ से अपने खेत के लिए उपयोगी गोबर की खाद प्राप्त करें। इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी, कछौना एवं नायब तहसीलदार, सण्डीला, उप कृषि निदेशक हरदोई, उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी कछौना, वैज्ञानिक, के0वी0के0 हरदोई, प्रभारी बीज भण्डार कछौना एवं अन्य अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहें।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता

About graminujala_e5wy8i

Check Also

22 वर्षीय युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

कछौना, हरदोई। कोतवाली क्षेत्र कछौना के अंतर्गत ग्राम जैतनगर में वुधवार को अपराह्न एक युवक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *