त्योहारों पर कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन जरूरी-सीएमओ 

हरदोई, 2 नवंबर।सुख व समृद्धि के त्योहार दिवाली,  भैया दूज  को कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करते हुए ही मनाएं | मास्क लगाकर पटाखों के धुएं और कोरोना दोनों से बचा जा सकता है | यह बात  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सूर्यमणि त्रिपाठी ने कही।मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया- जाड़े का मौसम आते ही हवा में नमी होने की वजह से यह अधिक प्रदूषित होने लगती है। इसके साथ ही पटाखे के धुएं से होने वाले प्रदूषण से सांस लेने में दिक्कत, आँखों में जलन, गले में खराश जैसी समस्याएं  हो सकती हैं। पटाखे से निकलने वाला  धुआँ फेफड़ों और साँसों दोनों के लिए नुकसानदायक होता है। ऐसे में जहां तक संभव हो बच्चों और बुजुर्गों को घर से बाहर न जाने दें। टीबी और सांस की समस्या से ग्रसित मरीज विशेष सावधानी बरतें।किसी भी तरह की सांस संबंधी समस्या होने पर चिकित्सक से परामर्श लें। ऐसे में  ट्रिपल लेयर मास्क धूल, धुआँ और प्रदूषण से बचाता है।मास्क को उचित तरीके से लगाना ही लाभदायक होता है।मास्क इस तरह से लगाएं कि नाक और मुंह दोनों ही ढंके रहें। बार – बार  चेहरे को न छुयेँ।  इसके अलावा यदि  कोविड पाज़िटिव रह चुके हैं तो ज्यादा सावधान रहें।पटाखे छुड़ाते हुए कुछ खास बातों का ध्यान अवश्य रखें सेनिटाइजर लगे हाथों से कभी भी पटाखे न छुड़ाएं क्योंकि सेनिटाइजर में ज्वलनशील तत्व होते हैं।पटाखे में मौजूद बारूद के संपर्क में आते ही यह किसी अप्रिय घटना को जन्म दे सकते हैं।इसके अलावा दो गज की शारीरिक दूरी और बार बार हाथ धुलना न  भूलें कोविड टीके की दोनों डोज अवश्य लगवाएं ताकि परिवार पड़ोस और समुदाय सभी को सुरक्षित रखें।जिन  लोगों ने कोविड टीके की दोनों डोज नहीं लगवाई है वह शीघ्र ही दूसरी डोज लगवा ले।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

मल्लावां में एसपी ने दल – बल के साथ किया मॉक ड्रिल , अराजक तत्वों पर रखी जाएगी नज़र

  हरदोई मल्लावां ।। लोक सभा चुनावों को लेकर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में दंगा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *