साइबर अपराधियों की ‘सेक्स’ वाली फांस, एक चूक और हो जाता है एकाउंट खाली

साइबर अपराधियों ने ठगी के लिए सेक्स बाजार का इस्तेमाल करना शुरू किया है.

साइबर अपराधियों ने ठगी के लिए सेक्स बाजार का इस्तेमाल करना शुरू किया है.

Cyber Crime: साइबर अपराधी इनदिनों फेक सेक्स वेबसाइट बनाकर लोगों को झांसे में ले रहे हैं. अबतक ऐसे दर्जनभर फेक वेबसाइट रांची पुलिस की नजर में आ चुके हैं, जिन्हें बैन करने के लिए पुलिस की तरफ से अनुशंसा की गई है.

रांची. झारखंड में साइबर अपराधियों (Cyber Criminals) ने ठगी के लिए नया तरीका निकाला है. इसके लिए ऑनलाइन सेक्स बाजार (Online Sex Market) का इस्तेमाल किया जा रहा है. यहां पर साइबर ठगों को वैसे लोग काफी संख्या में मिल जाते हैं, जो उनके झांसे में जल्दी से आ जाते हैं. और तो और ठगी का शिकार होने के बाद भी थानों की दहलीज तक नहीं पहुंचे हैं. हालांकि इस मामले में वैसी युवतियां जरूर मुश्किलों में पड़ा जाती हैं, जिनके फोटो का गलत इस्तेमाल कर साइबर अपराधी ठगी को अंजाम देते हैं.

जानकारी के मुताबिक साइबर अपराधी इनदिनों फेक सेक्स वेबसाइट बनाकर लोगों को झांसे में ले रहे हैं. अबतक ऐसे दर्जनभर फेक वेबसाइट रांची पुलिस की नजर में आ चुके हैं, जिन्हें बैन करने के लिए पुलिस की तरफ से अनुशंसा की गई है.

रांची के सिटी एसपी सौरभ ने बताया कि फर्जी सेक्स वेबसाइट के जरिए साइबर अपराधी लोगों को चुना लगा रहे हैं. ऐसी कुछ जानकारियां पुलिस के समक्ष आई हैं. लेकिन कई मामले ऐसे भी हैं, जिसमें लोग सामने नहीं आए हैं. उन्होंने बताया कि इन वेबसाइट में मासूम लड़कियों की तस्वीर का इस्तेमाल किया जाता है. इसकी शिकायत भी पुलिस को मिली है. जिसपर कार्रवाई की जा रही है.

साइबर अपराधियों का नया हथियार सेक्सटॉर्शनदरअसल साइबर अपराधी अब सेक्स परोसने के नाम पर ऑनलाइन ग्राहकों को लुभा रहे हैं. इस फांस में एक बार जो फंस गया, उसके साथ ब्लैकमेल का खेल शुरू हो जाता है और पैसे ऐंठे जाते हैं. झारखंड की राजधानी रांची में हाल के दिनों में दर्जनों डेटिंग साइट बनाये गए, जो सिर्फ और सिर्फ रांची के लिए ही है. इन साइट्स की पहुंच लगातार सोशल मीडिया पर बढ़ रही हैं. हजारों की संख्या में इनके लिंक पर लाइक भी मिल रहे हैं.

रांची के रहने वाले साइबर एक्सपर्ट मंसूर अहमद बताते हैं कि इस तरह के क्राइम को सेक्सटॉर्शन कहा जाता है. लोग बड़ी संख्या में इसके शिकार हो रहे हैं. लोगों को अपने सोशल साइट्स में सिक्युरिटी का इस्तेमाल समझदारी से करना चाहिए. वहीं अनवांटेड दोस्तों से भी परहेज करना चाहिए.

बता दें कि बीते दिनों रांची के बरियातू और अरगोड़ा इलाके में ऑनलाइन सेक्स बाजार का भंडाफोड़ हुआ था. लेकिन फेक सेक्स वेबसाइट के मामले में पुलिस चाहकर भी बहुत कुछ नहीं कर पा रही है. क्योंकि इसका डाइमेंशन काफी बड़ा है. और पुलिस के पास संसाधन और अधिकार सीमित हैं. ऐसे में इस तरह की ठगी से बचने का एक मात्र रास्ता सतर्क रहना ही है.




Source link

About graminujala_e5wy8i

Check Also

माधौगंज, टप्पेबाज बाइक की डिग्गी से पांच लाख लेकर फरार

माधौगंज हरदोई ।।  मंडी में आढ़तिया की मोटरसाइकिल की डिग्गी में रखे 5 लाख सत्तर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *