कथा में उपस्थित श्रोताओं के मन को साधने से मिलता सुख और शांति-आचार्य दिलीप


हरदोई। गुरूवार को श्रीमद्भागवत कथा में आचार्य दिलीप शुक्ल ने लोक-मंगल का संदेश बिखेरा। कहा स्वयं के कल्याण के लिए परमार्थ के पथ पर चलना होगा और व्यासपीठ से भक्ति भजनरस में झूमते हुए श्रोता भी आचार्य के साथ गुनगुना उठे-अधरं मधुरं वदनं मधुरं मधुराधिपति रखिलं मधुरम्।पिहानी मार्ग स्थित अरुणा पैलेस में चल रही सुख-शान्ति श्रीमद्भागवत कथा के दूसरे दिन आचार्य प्रवर ने श्रीकृष्ण और महाभारत से जुड़े प्रसंगों के साथ संदेश दिया कि पाण्डवों की तरह विघ्न बाधाओं और संकटों से धैर्यपूर्वक संघर्ष करो और धर्म परायण बनो। कथा व्यास ने श्रोताओं को धर्म पथ पर चलने की सीख दी। महाभारत के विभिन्न कथानक को रूचिपूर्ण तरीके से सुनाते हुए कहा जिस ओर धर्म होता है विजय उसी का वरण करती है। आचार्य प्रवर श्री शुक्ल ने कहा कि भगवान की भक्ति के लिए भागवत ज्ञान का श्रवण करना होगा।  व्यासपीठ का पूजन यजमान आलोक मिश्र ने सपत्नीक सोनू के साथ व्यासपीठ का पूजन किया। अनुष्ठान में रामलोटन मिश्र, आशीष मिश्र, स्नेहा मिश्रा, प्रेमलता मिश्र, शिल्पा, दिव्यांशी, कालू, नीलम, राजू बाजपेयी, रवीश बाजपेयी, रवि बाजपेयी आदि श्रद्धालुओं ने कथारस पान किया।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

बिलग्राम, कल सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी।

बिलग्राम हरदोई ।नगर क्षेत्र में शुक्रवार को सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *