सुरक्षा की गुहार के बावजूद भी कैसे हो गई कुलदीप की हत्या 

“काश” प्रार्थना पत्र को लेकर गंभीर होती पुलिस तो नहीं होती कुलदीप की हत्या
राजनीतिक दबाव या कोरोना का बहाना बना कुलदीप की हत्या का कारण
मल्लावां,हरदोई।जब रक्षक चंद लोगों की रक्षा न कर सकें तो ऐसे लोगों को रक्षक कहलाने का कोई भी अधिकार नहीं दिया जा सकता है।ऐसा ही एक मामला कोतवाली क्षेत्र के लकड़हा गांव में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के बाद गांव के शिवकुमार,कमलेश , रामनरेश सहित दर्जनों लोगों ने सामूहिक जनसुनवाई के माध्यम से पुलिस अधीक्षक हरदोई को अवगत कराया था।कि गांव के ही निवर्तमान प्रधान महेश, प्रकाश व उनके करीब दो दर्जन लोगों से जान माल खतरा होने की गुहार लगाई थी। आरोप है।कि इसके बाद स्थानीय कोतवाली में सभी लोग जान माल की सुरक्षा के लिए कोतवाल ज्ञानेंद्र सिंह को लिखित रूप में प्रार्थना पत्र देने गये थे।लेकिन कोरोना का नाम लेकर सभी लोगों को भगा दिया।जिसके बाद पीड़ितों ने कई बार कोतवाल से निवेदन भी किया की पुरानी रंजिश के चलते और चुनावी माहौल को देखते हुए किसी दिन भी हम लोगों के साथ अप्रिय घटना घट सकती है। लेकिन असल मुद्दे को छोड़कर इधर इधर की बातों में ध्यान भटका कर कोतवाली पुलिस ने कोरोना का हवाला देते हुए भगा दिया।चुनाव मतगणना के दो दिन पूर्व निवर्तमान प्रधान की जीत हो गई।जिसके दो दिन बाद उक्त पीड़ित लोग अपने खेतों में सिंचाई कर रहा थे।तभी निवर्तमान प्रधान महेश व प्रकाश समेत आठ लोग लाठी-डंडों व लोहे की सरिया से लैस होकर पीड़ित लोगों को घेर कर मारने लगे जिस पर उक्त प्रार्थी गण खून से लथपथ अपनी जान बचाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मल्लावां पहुंचे लेकिन पीड़ित के परिजन कुलदीप व नन्हें । की हालत खराब  होने के चलते किसी  तरह से कुलदीप को लखनऊ के एक निजी हॉस्पिटल भर्ती होने से पहले मौत हो गई।यदि समय से स्थानीय पुलिस बहाना बाजी ना करते पूरे मामले को गंभीरता से लेती तो शायद आज कुलदीप जिंदा होता।परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा है कि पुलिस आज भी उक्त अपराधियों के ऊपर कार्यवाही के बजाय उन को संरक्षण देने में व्यस्त है वहीं सूत्रों की माने तो यह मामला राजनीतिक बंदिशों के बीच फंसा हुआ है जिसके चलते मल्लावां पुलिस भी हाथ पर हाथ रखे हुए कुछ तथाकथित नेताओं का मुंह ताक रही है ।
इनसेट-उपरोक्त संबंध में कोतवाल ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया है कि आठ नामजद लोगों में से प्रधान व प्रधान के भाई व एक अन्य की गिरफ्तारी की गई है । पूरी निष्पक्षता के साथ कार्रवाई की जाएगी । मामले को गंभीरता से लेते हुए गांव में फोर्स तैनात की गई है ।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

राजकीय वृक्षों के अवैध कटान में वांछित अभियुक्त को वन रेंज की टीम ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

कछौना, हरदोई। वन रेंज कछौना के अंतर्गत चार माह पूर्व समदा खजोहना में 15 राजकीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *