बाढ़ राहत कार्यो को प्राथमिकता पर 15 जून तक पूर्ण करायें- डीएम

ग्रामीण क्षेत्र के नाविक एवं गोताखोरों का नाम, पता एवं मोबाइल नम्बर जरूर अपने पास रखें-अविनाश कुमार
हरदोई। कलेक्ट्रेट सभागार में आहूत बाढ़ अनुश्रवण बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने अधिशासी अभियंता शारदा नहर को निर्देश दिये कि संभावित बाढ़ क्षेत्रों का एक सप्ताह में निरीक्षण कर सभी तैयारियां पूर्ण कर लें और नदी से कटान होने वाले ग्रामों को चिन्हित करें तथा बाढ़ निरोधक कार्यो के क्षतिग्रस्त स्थलों की मरम्मत आदि के लिए मजदूर एवं अन्य आवश्यक व्यवस्था कराना सुनिश्चित करायें और ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ निरोधक कार्यो के क्षतिग्रस्त स्थालों पर जहां रात्रि में भी कार्य करने की आवश्यकता हो, वहां बिजली/जनरेटर की उचित व्यवस्था करायें। उन्होने अधिशासी अभियंता शादरा नहर को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिए नाव चलाने वाले नाविक एवं गोताखोरों से सम्पर्क कर उनका नाम, पता एवं मोबाइल नम्बर जरूर अपने पास रखें और बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के बीडीओ, ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ थानों पर बैठक करायें और उन्हें बाढ़ के समय बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में विस्तार से जानकारी दें तथा अवगत करायें कि बाढ़ आने की दशा में तत्काल संबंधित थाना एवं उप जिलाधिकारी को सूचित करें।बैठक में जिलाधिकारी ने उपस्थित नगरीय निकायों के अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिये कि नगरीय क्षेत्र के जलमग्न होने वाले स्थानों से पानी निकालने के पम्पों आदि की व्यवस्था पूर्व में कर लें और जल भराव होने पर पम्पों के माध्यम से तत्काल पानी निकलवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। उन्होने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के जानवरों के लिए चारा/ भूसा आदि के टेण्डर आदि कराकर भूसा आदि की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बाढ़ चौकियों को चिन्हित करा लें तथा बाढ़ से प्रभावित होने वाली तहसीलों में बाढ़ कण्ट्रोम रूम बनवायें और उनके फोन नम्बर आम जनमानस के लिए सार्वजनिक करायें तथा बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए खाद्यान्न आदि की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करायें।बैठक में जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता जल निगम को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के हैण्ड पम्पों को ऊंचा कराकर चबूतरा बनवायें ताकि बाढ़ आने पर हैण्ड पम्प का पानी दूषित न हो तथा ग्रामवासियों को पेयजल की समस्या न हो। उन्होने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित ग्रामवासियों के लिए मिट्टी का तेल आदि की पर्याप्त उपलब्धता बनाये रखें। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना से कहा कि शारदा नहर विभाग द्वारा बाढ़ क्षेत्रों में कराये जा रहे कार्यो का निरीक्षण करें तथा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के समस्त कार्य बाढ़ राहत कार्यो को प्राथमिकता पर  संबंधित विभागों के माध्यम से 15 जून 2021 तक पूर्ण करायें। बैठक में अधिशासी अभियंता शारदा नहर अखिलेश कुमार गौतम ने जिलाधिकारी को आश्वासन दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के समस्त कार्यो के बाढ़ आने से पहले पूर्ण कर लिया जायेगा।
बैठक में अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार यादव, जिला पूर्ति अधिकारी संजय कुमार पाण्डेय, पीडी रामेन्द्र श्रीवास, जिला सूचना अधिकारी संतोष कुमार, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी जेएन पाण्डेय, अधिशासी अभियंता पीडब्लूडी द्वितीय खण्ड संजय कुमार श्रीवास्तव, जिला पंचायत राज अधिकारी गिरीश चन्द्र तथा डीसी मनरेगा सहित नगरीय निकायों के अधिशासी अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

दिनेश भारतीय किसान यूनियन के नए जिला अध्यक्ष

अध्यक्ष मनोनयन का पत्र देते राष्ट्रीय अध्यक्ष सीपी सिंह *कमरुल खान* बिलग्राम हरदोई।। भारतीय किसान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *