प्रतिभा उम्र की मोहताज नहीं,छोटी सी उम्र में बनाया बड़ा रिकॉर्ड

हरदोई।अब्राहम लिंकन ने कहा है, “बच्चा मनुष्य का पिता है।” यह वास्तव में एक महान कथन है जो चिरकाल से लेकर वर्तमान तक , मानव जीवन के विकास को उजागर करता है। इसी कथन को चरितार्थ किया है उत्तर प्रदेश के हरदोई की इधिका मिश्रा ने | इस नन्ही बच्ची ने महज़ तीन साल एक महीने बारह दिन की उम्र में टाइट रस्से पर चल कर एक नया रिकॉर्ड बनाया है।
इधिका के इस रिकॉर्ड को सुप्रतिष्ठित इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, कलाम बुक ऑफ़ लवर्ल्ड रिकार्ड्स और एशिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स में दर्ज किया गया है।इधिका हरदोई के बाल विहार स्कूल की प्रिंसिपल रह चुकीं रंजना सिंह व सीनियर डॉक्टर एस वी सिंह की बेटी स्वर्णिमा सिंह की पुत्री है जो दिल्ली के सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया क्षेत्रीय कार्यालय में विधि अधिकारी के रूप में कार्यरत हैं। स्वर्णिमा सिंह के पति सुनील मिश्रा सुप्रीम कोर्ट के एक अधिवक्ता हैं।इधिका की माँ का कहना है कि बच्ची को इस सब की प्रेरणा अपने नाना और नानी से मिली है। ये छोटी बच्ची दिल्ली के बाल भारती पब्लिक स्कूल, रोहिणी की प्री स्कूल छात्रा है | एडवेंचर स्पोर्ट्स के अलावा इधिका को नृत्य, साइकिलिंग व स्केटिंग में भी रूचि है।3 साल की इधिका अपने माता-पिता और नाना नानी का गर्व है। परिजन भी इतनी कम उम्र में उसकी एकाग्रता और लगन देखकर हैरान हैं। परिजन कहते हैं कि जहाँ लॉक डाऊन में बच्चे मोबाइल और टीवी के आदी बन गए है और फिजिकल एक्टिविटी में बेहद पिछड़ गए है लेकिन लॉक डाउन के समय का भरपूर लाभ उठाते हुए इधिका ने तमाम सारी फिजिकल एक्टिविटी के साथ साथ कई ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में भाग लिया जिसमें उसने योग , फायर लेस कुकिंग, पपेट शो, राइम्स, ट्विनिंग एवं आर्ट प्रतियोगितओं में कई पुरस्कार भी प्राप्त किये हैं। सच ही है कि प्रतिभा उम्र की मोहताज नहीं होती है।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

13 से 29 अप्रैल के मध्य किया जायेगा निःशुल्क खाद्यान्न वितरण

हरदोई: जिलापूर्ति अधिकारी कमल नयन सिहं ने बताया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजनान्तर्गत माह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *