तालीबान की हरकतें इस्लाम विरोधी हैं – आरिफ

भाजपा नेता ने अफ़्गानिस्तान मसले पर रखी बात
कहा, खूं रेज़ी से नहीं इन्सानियत से फैला है इस्लाम
भाजपा नेता आरिफ खान शानू

हरदोई। इस्लाम इन्सानियत की मज़बूत पैरवी करने वाला मज़हब है।किसी भी इस्लामी किताब में खूं रेज़ी की इजाज़त नहीं दी गई है, फिर तालिबानियों का खूनी खेल इस बात का पक्का सबूत है कि तालिबानी मुसलमान नहीं हो सकते, उन्हें इस्लाम से बेदखल किया जाना चाहिए।
तालिबानियों ने जिस तरह से अफ्गानिस्तान में खूनी खेल खेलते हुए कब्ज़ा किया है,ऐसा गैर शरई है। भाजपा नेता आरिफ खान शानू ने दो टूक लफ्ज़ों में कहा कि जिस तरह से तालिबानियों ने अफ़गान के लोगों को निशाना बनाते हुए खूनी खेल खेला, उससे यह साबित हो गया कि तालिबानी मुसलमान नहीं हैं।श्री शानू ने कहा कि इस्लाम की किसी भी किताब में खूं रेज़ी की इजाज़त नहीं दी गई है। इस्लाम तो इन्सानियत से फैला और फैलाया गया है। उन्होंने कहा कि अफ्गानिस्तान में जो हालात हैं,वह बेहद ख़ौफनाक है। वहां बुज़ुर्गो,औरतों और यहां तक कि मासूम बच्चों को भी नहीं बख्शा जा रहा है। तालिबानियों ने जिस तरह से इस्लाम का झंडा लेकर अपने खूनी मंसूबों को पूरा करने का जो ख्वाब देखा, अल्लाह ने चाहा तो वह कभी भी पूरा नहीं होगा। क्यों कि इस्लाम इन्सानियत, सलाहियत और मिल्लत का पैग़ाम देता है।किसी को सताना या परेशान करना नहीं। भाजपा नेता ने इतना तक कह डाला कि इस तरह से इस्लाम को बदनाम करने वाले तालिबानियों को इस्लाम से खारिज किया जाना चाहिए ।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

बिलग्राम, उर्स ए जहूरी का तीसरे दिन हुआ समापन

महफ़िल ए सिमा में आये कव्वालों ने समा बांधा जिक्र ए औलिया में मौलाना शम्श …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *