अटकलों का बाजार गर्म, कौन होगा 159 विधानसभा में सपा का उम्मीदवार

मल्लावां बिलग्राम विधानसभा सीट एक दावेदार अनेक 17 ने अब तक किया आवेदन 4 का नाम शीर्ष पर

जल्द लग सकता है कयासों पर विराम
कौन होगा सपा उम्मीदवार ये जानेगी अवाम

*कमरुल खान /बिलग्राम*

बिलग्राम हरदोई। ।पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी की इकतरफा लहर के चलते ज्यादातर सीटों पर बीजेपी ने अपना परचम लहराया था, जहां कभी भी अन्य पार्टियों ने भाजपा की दाल नहीं गलने दी वहां पर भी पिछले चुनाव में भाजपा के उम्मीदवारों ने भारी मतों से जीत दर्ज की थी। लेकिन अब हालात पहले जैसे शायद नहीं हैं कोरोना महामारी के चलते बढ़ी महंगाई, बेरोजगारी, जैसी समस्याओं से जनता जूझ रही है जिसके चलते अब जनता का अन्य पार्टियों की तरफ रूझान बढ़ने लगा है। हरदोई जिले की बिलग्राम मल्लावां विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी की उम्मीदवारी को लेकर अब तक एक दर्जन से अधिक लोगों ने आवेदन किया है जिसमें चार संभावित उम्मीदवारों ने क्षेत्र में जनता के बीच जाकर अपना प्रचार-प्रसार भी करना शुरू कर दिया है लाखों रुपये की होर्डिंग्स से गली मोहल्ले और गांव पट गये हैं अपनी टिकट का सपना संजोए संभावित उम्मीदवारों ने पार्टी आलाकमान से नजदीकियों का ज़िक्र अब जनता के बीच गाहे-बगाहे करने लगे हैं। उनका यही कहना है कि पार्टी की तरफ से टिकट हमारी ही पक्की है बस एलान होना बाकी है। सूत्रों की मानें तो 17 में से जिन चार लोगों के नाम सबसे ऊपर है।

उनमें प्रथम स्थान पर पूर्व विधायक ब्रजेश वर्मा का नाम सामने आ रहा है। ब्रजेश वर्मा 2012 में इसी मल्लावां बिलग्राम विधानसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी के विधायक रहे हैं लेकिन अब वो सपा नेता के रूप में क्षेत्र भर में जाने जाते हैं और पार्टी से टिकट की उम्मीद लगाए हुए हैं, कहा जाता है कि पार्टी के वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल से उनके काफी अच्छे ताल्लुक़ात है साथ ही पार्टी में स्टार प्रचारक की भूमिका निभाने वाली पूर्व विधायक पूजा पाल से भी उनके खास संबंध हैं । और क्षेत्र की कुर्मी बिरादरी पर अच्छी पकड़ रखते हैं, जिसकी बिना पर उन्हें टिकट मिल सकती है ऐसा कहा जा रहा है।

दूसरे स्थान पर सुभाष पाल का नाम सामने आ रहा है। सुभाष पाल भी पिछले कई सालों से राजनीति में सक्रिय हैं वो 2012 में पीस पार्टी से इसी सीट पर चुनाव लड़े थे जिसमें उन्होंने पचास हजार से अधिक वोट पाकर तीसरा स्थान प्राप्त किया था 2017 विधानसभा चुनाव में भी समाजवादी पार्टी ने उन्हें मैदान में उतारा लेकिन 75 हजार से अधिक वोट मिलने के बावजूद हार का सामना करना पड़ा था,लेकिन पिछले वर्ष कन्नौज में आये एक शादी समारोह से लखनऊ वापस जाते समय बिलग्राम कस्बे में प्रेस वार्ता के दौरान पूछे गए एक सवाल पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि अगले विधानसभा चुनाव में हमारे उम्मीदवार सुभाष पाल होगें, इससे जनता ये कयास लगा रही है कि शायद सुभाष पाल की दावेदारी पक्की है।

तीसरा स्थान ब्रजेश कुमार वर्मा उर्फ टिल्लू भइया का सामने आ रहा है ये भी कुर्मी बिरादरी से आते हैं वैसे राजनीति के खेल में अभी ये नये खिलाड़ी हैं लेकिन खर्चे के बलबूते खूब चर्चे हो रहे हैं। जगह-जगह पर लगे पोस्टर बैनर इस बात की गवाही दे रहें हैं कि टिल्लू भइया भी चुनाव लड़ने का मन बना चुके हैं। टिकट मिलने की बात दूर सही लेकिन मैदान में अभी से डट गये हैं। कहा जाता है कि खुद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव उनके मल्लावां स्थित कार्यालय में आये और टिकट का भरोसा देकर वापस लखनऊ रवाना हो गए, अब लोगों के द्वारा कही गई बातों में कितनी सच्चाई है ये कह पाना मुश्किल है।

चौथा नंबर अश्वनी कुमार पटेल का है ये पेशे से एक अधिवक्ता हैं। अश्वनी कुमार भी एक बार पीस पार्टी से चुनाव लड़ चुके हैं।लेकिन अब ये समाजवादी पार्टी के संभावित प्रत्याशी के रूप में जाने जा रहे हैं, अश्वनी कुमार को भी राजनीति विरासत में मिली है आपके पिता मदन बाबू जी पूर्व ब्लॉक प्रमुख रहे हैं। अश्वनी कुमार भी क्षेत्र में इन दिनों खूब भ्रमण कर अपना और पार्टी का प्रचार-प्रसार कर रहे हैं, इसके अलावा विवेक कुमार भी मैदान में उतर कर किस्मत आजमाने की कोशिश में लगे हैं। अब इनमें से किसकी किस्मत का तारा चमकेगा ये आने वाला वक्त बतायेगा, राजनीति का ऊंट किस करवट बैठेगा ये किसी को नहीं मालूम कब पहला नंबर आखिरी हो जाये और कब आखरी पहले पर पहुंच जाये ये कोई नहीं बता सकता। कहा जाता है कि राजनीति में कुछ भी स्थाई नहीं होता है।नेताओं के द्वारा कही हुई ज्यादातर बाते सिर्फ जुमला ही होती हैं।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

बिलग्राम, उर्स ए जहूरी का तीसरे दिन हुआ समापन

महफ़िल ए सिमा में आये कव्वालों ने समा बांधा जिक्र ए औलिया में मौलाना शम्श …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *