नौनिहालों पर संकट, विद्यालय से होकर गुजर रही हाईटेंशन लाइन

कछौना/हरदोई। पढ़ेगा इंडिया तो बढ़ेगा इंडिया के स्लोगन को लेकर सरकार परिषदीय विद्यालयों की दशा दिशा बदलने के लिए सतत प्रयासरत है। परिषदीय विद्यालय से हमारे नौनिहालों की नींव रखी जाती है। सरकार की पहली प्राथमिकता हैं कि परिषदीय विद्यालयों में मूलभूत सुविधाएं बेहतर हो, कायाकल्प के माध्यम से स्कूलों में क्रांतिकारी कार्य कराया जा रहा है। परंतु विभागीय अधिकारियों की उदासीनता के चलते नौनिहालों को प्राथमिक विद्यालय खेरवा विकासखंड बेहन्दर में हाईटेंशन विद्युत लाइन के नीचे शिक्षा ग्रहण करने को विवश है। नौनिहालों का जीवन हमेशा खतरे है। कई बार तार टूटने की घटना घट चुकी है, कई बार स्पार्किंग से नौनिहाल घायल हो चुके हैं ।विद्यालय प्रांगण में ट्रांसफार्मर रखा है। प्रधानाचार्य संगीता सिंह ने विद्यालय परिसर में हाई टेंशन लाइन व ट्रांसफॉर्मर हटवाने को लेकर दर्जनों बार शासन प्रशासन से शिकायत की। परंतु विभागीय अधिकारी शायद किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं। शासन का सख्त निर्देश है उन विद्यालयों को चिन्हित किया जाए जिन विद्यालयों के पास हाईटेंशन विद्युत लाइन व ऊपर से गुजरी हो, विद्यालय प्रांगण में ट्रांसफार्मर रखा हो अथवा विद्यालय के पास खुला ट्रांसफार्मर रखा हो, इन विद्यालयों को चिन्हित करके तत्काल व्यवस्थाएं दुरुस्त की जाए। जिससे नौनिहाल बिना विद्यालय प्रांगण में ट्रांसफार्मर व हाईटेंशन लाइन गुजरने के कारण नौनिहाल हमेशा भयभीत रहते हैं।विभागीय अधिकारियों की जवाबदेही न होने के कारण अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने में हमेशा अनहोनी घटना की आशंका से भयभीत रहते हैं। कई बार अनहोनी घटना स्पार्किंग से आग लगने व विद्युत करंट उतरने से छात्रों की संख्या काफी कमी रहती है। शिक्षकों व नौनिहालों का जीवन हमेशा खतरे में रहता है। खंड शिक्षा अधिकारी ने बताया मामला गंभीर है, पूरी रिपोर्ट तैयार कर उच्च अधिकारियों को अवगत कराते हैं। काफी प्रयास के बाद प्रांगण से ट्रांसफार्मर न हटना व विद्यालय के प्रांगण से हाईटेंशन लाइन न हटाए जाने के कारण अभिवावकों में काफी आक्रोश है।

About graminujala_e5wy8i

Check Also

भाकियू के मंडल उपाध्यक्ष ने जिलाधिकारी को मांग पत्र सौंपा।

बिलग्राम हरदोई ।। संपूर्ण समाधान दिवस में आए भाकियू के मंडल अध्यक्ष राज बहादुर सिंह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *