अलाव के लिए डाली जा रही गीली लकड़ी, कैसे मिले लोगों को ठंड से राहत

पाली/हरदोई। इस समय पड़ रही कड़ाके की सर्दी से जहां आम जनमानस ठिठुरने को मजबूर है वही पक्षी भी बेहाल नजर आ रहे हैं ऐसे में नगर पंचायत द्वारा सूखी लकड़ी की जगह गीली लकड़ी से अलाव सुलगाए जा रहे हैं।
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रामलीला चौराहा थाना परिसर सब्जी मंडी पथवारी देवी मंदिर रेन बसेरा समेत नगर पंचायत द्वारा चिन्हित कुल 17 जगहों पर अलाव की स्थिति का जायजा लेने पर ये अव्यवस्था देखने को मिली। तो कुछ स्थानों पर गीली लकड़ियों से उठता धुआं देखकर दंग रह गए। ठंड से ठिठुर रहे लोग इधर-उधर से कागज कूड़ा पन्नी बीन कर ठंड से बचने के लिए गीली लकड़ियों को जलाने की कोशिश कर रहे थे वहां मौजूद कुछ लोगों ने बताया कि नगर पंचायत द्वारा अलाव की लकड़ी खरीदने में भी खेल खेला जा रहा है। उन्होंने बताया कि सूखी लकड़ी का भाव ₹600 के करीब है जबकि गीली लकड़ी 200 से 300 तक के भाव में मिल जाती है अधिशासी अधिकारी प्रकाश चंद्र गोपालन ने बताया कि नगर पंचायत के पास सीमित संसाधन है सूखी लकड़ी बहुत महंगी है, कोशिश की जाएगी अलाव वाली जगह पर
सूखी लकड़ी ही डाली जाए

About graminujala_e5wy8i

Check Also

भाकियू के मंडल उपाध्यक्ष ने जिलाधिकारी को मांग पत्र सौंपा।

बिलग्राम हरदोई ।। संपूर्ण समाधान दिवस में आए भाकियू के मंडल अध्यक्ष राज बहादुर सिंह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *