बैंकों के निजीकरण के विरोध में कर्मचारी संघर्ष की राह पर

सरकार पर मनमानी का आरोप

हरदोई।बैंकों के निजीकरण के ख़िलाफ़ बैंककर्मियों ने बैंक ऑफ इंडिया रेलवेगंज शाखा पर पूरे दिन का धरना आयोजित किया।बैंककर्मी यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आह्वाहन पर 15 व 16 मार्च को दो दिन की हड़ताल पर जा रहे हैं।धरने की अध्यक्षता बैंककर्मी नेता क्षितिज पाठक ने की। उन्होंने बैंककर्मियों को निजीकरण के ख़िलाफ़ आर पार की लड़ाई के लिए तैयार रहने को कहा। उन्होंने 15 व 16 मार्च को दो दिन की राष्ट्रव्यापी हड़ताल को सफल बनाने का आह्वाहन किया।यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के स्थानीय संयोजक आर के पाण्डेय ने कहा कि केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में प्रतिगामी बैंकिंग सुधारों व दो पीएसयू बैंकों के निजीकरण की घोषणा कर बैंककर्मियों को आक्रोशित कर दिया है। उन्होंने कहा कि पीएसयू बैंकों में जमा 150 लाख करोड़ जनता के जमा धन पर कारपोरेट की नजर है। अभी तक यह धन समाज के कमजोर वर्ग, किसानों, खुदरा व्यापारियों को ऋण योजनाओं के काम आता है। निजीकरण के बाद यह धन कारोपेरेट के कब्जे में होगा और उनके हित साधेगा। बैंकों का निजीकरण देश की तबाही का कारण बनेगा।धरने में प्रमुख रूप से वेद प्रकाश पाण्डेय, अनूप सिंह, अजय मेहरोत्रा, वरुण सिंह, वर्षा मेहरोत्रा, अनामिका सिंह, दीपक बाजपेई, नंद किशोर पाण्डेय, अनुज सिंह, अनादि ब्रम्ह, सोनी कुमारी, स्वाति गुप्ता, राजेश कुमार, संदीप कुमार, प्रकाश दुबे, एसके तिवारी, सौरभ सिंह, कृष्णकांत वर्मा, सुरभि अवस्थी

About graminujala_e5wy8i

Check Also

13 से 29 अप्रैल के मध्य किया जायेगा निःशुल्क खाद्यान्न वितरण

हरदोई: जिलापूर्ति अधिकारी कमल नयन सिहं ने बताया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजनान्तर्गत माह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *